पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष पंचदश भाग.djvu/१३४

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


१२८ फ्रान्स-फिस्केट आफिक्रकाके फासोदा रणक्षेत्रमें पराजित होनेसे फरा- शताब्दीके प्रारम्भमें यह नगर राजधानीमें परिणत सियोंकी विशेष क्षति हुई थी तथा चीनदेशके वक्सर हुआ। पीछे १०वीं शताब्दीमें हुकैपेटने यहां फरासी विद्रोह और खुटान-हत्याका प्रतिशोध लेने के लिये इन्हों- । राजतन्त्रको राजधानी बसाई थी। १५वीं शताब्दीमें ने भी प्रधान नेतृत्व ग्रहण किया था। युद्ध, दुर्भिक्ष, महामारी आदिसे यह नगर हतश्री हो गया । १९१४ ई०के आगस्तमासमें जर्मन-महासमर आरभ पीछे ४र्थ हेनरी, १३वें और १४३ लुईके शासनकाल में हुआ। उस समय फरासी प्रजातन्त्रके सभापति थे यह नगर नाना अट्टालिकाओंसे सुशोभित और आयतनमें मसियों पंयकारे ( IPoincare ) उनके पूर्वतन राष्ट्र बड़ा था । विख्यात वीर नेपोलियन बोनापार्ट के अधिकार- पति मसियों फैलियरके समयमें फ्रान्सके मध्य इस में तथ लुईके यत्नसे इस राजधानोने अपूर्व श्री धारण- प्रकार एक महायुद्धका पूर्वाभार दिखाई दया था । की। जो कुछ बाकी बचा, ३य नेपोलियन और बेरन जर्मनी और अष्ट्रिया सम्मिलित शक्तिके विरुद्ध इङ्गलैण्ड, हसमैनने उसे पूरा किया। इस समय राजकीय अट्टा- फ्रान्स और रूसियाने युद्ध घोषणा कर दी। इस युद्ध- लिका, उद्यान, सेतु, जल प्रणाली और दुर्ग के पुनर्निर्माण- में जर्मन सेना द्वारा फ्रान्सकी विशेषतः पारिनगरकी में प्रायः करोड़ पौंड मुद्रा खर्च हुई थी। पारी नगरीने महती क्षति हुई थी। १९१८ ई०को सन्धिसे मित्रशक्ति- सम्पूर्ण नूतन भावमें सुगठित हो कर वर्तमान आकार वर्ग की जय स्वीकृत हुई। भाई शक्तिकी शतके अनु- धारण किया। सार जर्मनीने फ्रान्सको आलसेस लोरेन प्रदेश लौटा. १८७० ई०में जर्मनी सेनाने राजधानीमें घेरा डाला दिया । फ्रान्सने १९१६ ई०के जाति-सङ्घ ( League ol , और परवत्तींकालमें कमिउनोंके अत्याचारसे पारी नगरी- Nation )-में योगदान दिया है। । की महती क्षति हुई। १६१६ ई०के अप्रिल मासमें फ्रान्समें प्रवल श्रमिक १८८० ई०में यहांके प्रजातन्त्र मन्दिरमें ( Plaec de la विद्रोह आरम्भ हुआ था। खाद्यद्रव्यको मूल्यवृद्धि, : Republiquc) एक ७० फुट ऊंचा अनुशासन स्थापित श्रमिकोंकी दैनिक कार्य, कालवृद्धि, स्थलविशेषमें श्रमिकों- हुआ था । जगत्का सर्वश्रेष्ठ और सर्वापेक्षा वृहत् पुस्तका- का वेतनहास और रूसियों के साथ फ्रान्सको युद्धघोषणा- लय इस नगरमें विराजित है। पुस्तकालय देखो। के सम्बन्धमें अमूलक जनरव-यही सब उक्त विद्रोहके १.०० ई०में पारी राजधानीमें एक जगत् प्रसिद्ध प्रधान कारण थे। । प्रदर्शनी अनुष्ठित हुई। इसके पहले असाधारण परि- १९१९-२० ई०के निर्वाचनमें मसियो डेसनेल (M: , श्रम और प्रचुर अर्थ व्यय करके ऐसी शिल्पप्रदर्शनी और Deschanel ) प्रजातन्त्रके सभापति हुए और मिलेर किसी भी देशमें संघटित नहीं हुई । वर्तमान शताब्दीमें ( Millert:l ) उनके पूर्ववत्ती प्रधान मन्त्री क्लिमेनसो। यह फरासी जातिकी गौरव-परिचायक है। Clemenceal ) की जगह नियुक्त हुए। इसके कुछ फ्रान्सीसी (वि०) १ फ्रान्स देशका, फ्रान्स देशमें उत्पन्न । समय बाद हो डेसनेल संयोगवशतः चलती गाड़ीसे गिर ! २ फ्रांसवेशमें रहनेवाला, फ्रांसदेशवासी। पड़े जिससे उन्हें गहरी चोट लगी थी। इस कारण वे फ्रिकेट (अ० स्त्री०) लोहेकी चद्दरका बना हुआ चौखटा । पदत्याग करनेको बाध्य हुए। उनकी जगह पर मिलेरौ यह हाथसे चलाए जानेवाले सके डालेमें जड़ा रहता राष्ट्रपति बनाये गये। है। छापनेके समय कागजके तख्तेको अले पर रख पारी ( पेरिस ) नगर इस राज्यको राजधानी है। कर इसी चौखटेसे ऊपरसे बन्द कर देते हैं। पीछे डालेको जुलियस्सिजरने इस नगरका लुटेसिया नामसे उल्लेख गिरा कर प्रेसमें दबाया जाता है। कागजके तख्ते पर किया है। उस समय यह नगर मट्टीके घरोंसे आवृत उन उन जगहों पर जो फ्रिस्केटके छेदसे खुली रहती हैं था। ४थी शताब्दीमें पारिसियाई' नामक केल्टिक जातिके मैटर छप जाता है और शेष अंश ढके रहनेसे सादा वाससे इस स्थानका पारिसिया नाम पड़ा। ठी! रहता है।