पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष विंशति भाग.djvu/४७८

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


४६३ नाम युधरानने धम् शहरमें पदार्पण किया। जब १७ौं । पहारके लेफ्टनापट गाना। तारोनको गर्द मिएको मारन पहुचे तद उस हापमें | कार्यारम्भ भारत माम्रायका कार्यभार दे र उन्होंने १८ौं मारिजेन्डेि १८४ अप्रिल २५, दिसम्बरको गाड यात्रा की। जानकी प्राएट १८५६ मा ९, लाह मिएटोर ममपर्म २४ी निमम्बरको अवगन , मसिठ निडन KOSI १८६२ अप्रिल २४, गा में आये थे। क्लबत्ताम उन शुमागमन पोष्ट शिलियम प्रे १८५७ , २४, गानन्दो मा दुआ था। सत्ताके मैशनमें उनका , जात फैम्पेठ १८७१ मार्च १, अन्यथना तथा अभिनन्न् नार्थ ए दावार माा। उम रिचा टेम्पल Birt , १८७४ अप्रिन, माय छोटालार यहादुरो घेरभेडियारके प्रामादमें | मानतीय मामली इडेन c s I CIF १८ घगाय हित मदिराोंने युवरान पताका वरण पिया जनवरी ८ सर ए शार्ट मि, येला KC PIC I E १८७६ ___ ०.१० अपट्टवर महीने में ध गराय दो भागों ! ग्मित हुआ। पुर माध पहा छोटेलार हुए। (होंने आसरी इडेनकी जगह कुछ समय मस्थायि गासियोंने इन दिनों अटुरेन शापारियों मीडित रूपसे काम पिया 1) होकर उनके व्यापार पयो रोध करने के लिए गालमें अगटम रिमा टम्म्न CICI १८८२ 'सदेता निम्तार करनेशी वेशश की। उसगौने। अपिल २४ बदेनी वाणिज्यकी रक्षा निये व गमानाके श्रीचरण मि० एच ए करेल IC - CI १८८५ शरण गएर श्रीयुत पहिमपटके उस दिगन्त विस्फा । अगस्त ११, रित 'व मातरम् ' महाम श्रम दाथित हो कर जाते (रिमर्म उम्मलनके अकात रेने पर सम्मायिकपसे नया देतोद्धार का बेटा की मदद मातरम् मावरे पास किया।) गीघ्र ही विद्रोह होने की आशा नान कर अटुरेन रात मर टुआर्टसि वेलो १८८७ अप्रिल २ पर्गनारिग माहित हो उठे। उन्होंने नारों ओर' , चालम मलम उ एलियट Kc S 1 १८६० 'वन्दे मातरम् सोनका प्रनिगम करनेक लिए मपुर, दिसम्बर १७, जारी किया। रिट्र व गाना ऊपर रानपुरगोंने माना पाट्रिक मै धोनेट KC • I १८६३ कुछ अन्याचार मा ना मान दिया । उन राजा ) चारियोक मनिस यदे मातरम् धनिमे विधुणित (उमा मार को ३० वीं नवम्बर तक एलियरका छुट्टा हो गये। मेघ गारियों में औद्धत्य दमनके लिए इम' में समय कार्य किया!) म्यान गोरवा मादल नियुश किया। अनम माननाय सर अजन्दर मेरे खा KCE २८६५ १९०९ ६०म गाप्रोमिमियर फ्रे स समय | राजा प्रतावित पा चूडान्त हो गया। व गालो नत्ता माननीय बालम सि, टिभेस सुरेहनाथ न्योपाध्याय रामपुरषों द्वारा भगदएडमे ८SI (अलजन्दर मे चीक अकाशने दण्डित हुए। प्रनामोंमें और ग गानि अनुभून होन पर १८६७ ६०१ २१ दिसम्बर तक काम किया।) गा उम मनय रायम विधानके लिए पूदा बहारके माननीय मर जान उदयरन ICSK.CSI छोटागट पादुम्बीय यादेश प्रत्याशियातु १८६८ अप्रिर ७ पर इस समय 'पदे मादाग्न' पूर्णमासे जेप, चोरिलोन I css 1 १६०२ जग उगया। नवावर २२ पेखि दिमम्बर १८,