पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष सप्तदश भाग.djvu/१०

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


पलपाइन्-पत्रवार मलपष्ट्रिन ( म० वि० ) : मनगुन, मैला । २ पलिा , ' सन् १८०३ १०में संलोनेरी मौर. कालिार ये दो फीचरम सना दुभा। ! जिले स्थापित किये गये। पीले न दोनों को गोष्ट कर मनपरी ( स० वि०) मशिन देशो। भय उप-मलपार और दक्षिण मन्दपार मामसे दो सिता मलपाक (स.पु. दोषपा। फायम रिया गया। पलपू(म यो) मला पापात् पुनानीति पूछि। दक्षिण भारत में यह जिला ममुद्रफे किनारे दक्षिण- १ कोको परिका, कमर । २ यानि, मोमराज । पूर्व १४५ मील तक फैला हुमा है। उसरको मोर. २५ मलमालदेश (म0पु0) एक देशका नाम! मील और दक्षिण ७० मील सक फैला सके उत्सर. मलया-(हि.पु.) १ फूटा कर्कट कतयार। २एक; दक्षिण प्रान्समें एक झोप मार शिली पदाइहै। मिपा प्रकारकी उगाही या बेहरी गो गयिम पहोदारासि दारफे, इसके पनि पार पर्यंत माफ किनारेसे समानान्तर हाशिमा प्रादिफे सर्च फे, लिपे यमन को ज्ञाती १३ हर भायसे फैलाया है। पालघाट-द इसका देखने या गिराई इमारतको १२, पत्थर और जूना मादि। योगा स्थान है। यह गदा २५ मील सा फैलता हुमा मलवार-मान्द्राज प्रेसिडेन्मोमें पृटिश राज्यका एक परिम पार तक पाया गया।इस पोरेपर्यंत तपा- जिला । याद भन्ना० १०.१६ मे १२१८ ३० तथा कार रायनायसे दिपाई देता है। गोलगिरि मौर मा. देशा० १४ से ७६९२ पू०फे मध्य अम्णिन है। मलय पदाद इस गढेको बगला अपस्थित है। इसके इसके उत्तर-दक्षिण कनामा, पूर्वमें कुर्ग, मेसा राज्य मोतरसे मलय यायु फोयम्बतोरम प्रवाहित होती है। मौलगिरि और कोयम्दपूर जिला, दक्षिणा कोचीगराय सिया इसके. मेयूर, कुर्ग, फोगीन आदि स्थानोंके निकट शार पश्चिममें भरवसागर है। भूपरिमाण ५७१५ वर्ग कितने दो छोटे छोटे पदादी पर है। मौल है। कालीकट इस जिले का मदर है। मलयारमें गनेरो मदिया है. इनमें पिनापत्तन, धर्म- मलयालम् (मन्टमार) देशका मानोन गाम घेर और पसग, कोरा, माही, कदलबन्दी मादिपान मदिया है। फेरलापही माम पुराण अन्योंमें भी मिलता है। आज तनुर और वियूर नामकी दो सा गलयासी भोले है। परफे यूनानिपोय. मली (Math) गद पर पतमान मल माल मलपारको मुन्दरताना उगलागि, यदा हो। पार नामका उन्देश मालूम होता है। किन्तु मलपार मदियोको मधिकतामे जलीय पयसापको भी अधिकता माग गावियों का गाया है। मेरा भीर र देगो है। घायल, मिन, मसाला, काट मादि पदको प्रयाग मोसन मादकका पाना है, कि 'यार' प्रश्पय मम्मके नीजे सोगम मार सन्याय प. प.काठ महीप 'या' गप्पले उत्पन्न हुमा २ मिमका पर है मदेश प्रोतमें पहा सापेमाने हैं। यहां पाने बिगर पलटेल मादका कहना है कि फारसीसे 'बार'को मछलियोको पक: रिपे उनको रिमी सराका कर पुरपति। जोहो, 'मलयार'शाद धारपार' 'मारयार'! नीना पहला प्रतियां यहां 10. मन्य शरफे ममान मान्दम होता है। मयां प्रदेश या ममुद्र को मालिया लहानोपमें भेगो जाती है। मनवार सारपशों शानदोधक है। TAAREIाम जमे विगत ६, पम्पराग भी मेरो मन् २०१२ मे भीररुपसन मरिपके समय मन. हो सुयिस्यूत है। दादापी, मग, दरिल, पार आदि पार र दरिया कम्पनीके हाय मापा और पह पम्म में हमन्तु मो दिशा देते है। मिला लिया गया। १९ मा दाम ____मगारफे मागीन इतिद्वारी मापनकोर राम्या नागनको रागोर यो गांधी। वो मन् १८००० वदा सम्बन्ध है। दोनों पानी पीनमाल, मनुष्य, मयमा दिपा गया। इसके बानी कानून, गारन, गहन मान पानादकी। प्राक पिमा पापा कार नियुग किये गये। परदार मरेप मामार मात्राममें समा रिपा परि पापपगो में यम महदीनाना गया। इन दो स्थानोका मान करने हैं। विदाममं मानम