पृष्ठ:हिन्दी विश्वकोष सप्तदश भाग.djvu/४००

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
यह पृष्ठ शोधित नही है


पानान (पातंगट)-मातापी . .. गीतापगल्या.ये पह। इन्होंने रोटे मोटे का नाम गान। यहां मानामाको पाता . प्रोको रगना की। पेनिसिदसरोजशारफे ममयो :४० मोल नगागो या फुगारगद गासे यहलो दुई सोपिन । । सुन्दायगी भोर ली गई है। इमोम सागर मासान ( मातre ) --काशमोर रायो एक मम्न मन्दिर।। नाम चूनों है सो चाकदद (समदा) . ( मस्र भागीरको या मा ४२ उ० नपा देशा० ७५२१० मोमें गिरती है। . मारमा उपस्यका ममी एक शैयाको भघि म नदीका आकार छोरा होने पर : मोसको रपका पर रणपिन । प्राय किस मन्दिरको ममोर यन गंज 1१८२० कानिगरा मोमो मिन्ट गां पूपकान्द्रों पपनसमपूर्ण क्षममृदिगाली नगरी गी।' यो जिममे इम कलेवर बहुत बढ़ गया. कारों यही गलगिनी यति गमपुर म्यामीका मन्दिर मामाहा नदो पो रहा नाय पी . मोर माग ___ माननत्स्यमिदगण म मन्दिर काम कार्यको निपु. : जाते हैं। . णना देग कर अवार से गये हैं। पा० निहमके । मामामद (म.पू.) मातुः पिता (पिनुष्य मातुमाना मगमे २४ मन्दिर ३०० बनाया गया था। यह महा! पा ४२०३६ मि सामनासिश्य । माता मातंगड-मन्दिर सूर्यको उपासनामा प्रधान स्थान है। का पिना, नाना। मानामदको मृत्यु होने पर दौहितको गेल साहयका कहना इत्त मन्दिर पाण्यंगारों : नोन दिन तक मनाय रहता है। की माय फोलि नया गट-जनामे पहुत पहले बनाया, "माम मरगे गिनाम् ॥' ' गया है। कमान येटिस के यनुमानानुसार पेगी सुचार . गीनि सम्म जगन्में और कहीं भी नजर मही. जहां पुत्र न हो यहां धायाधिर .र. निगमानुसार भाती। दुदिना श्रादको मभिकारिणो दो है गौर वादिन मन्दिर फरमोरी मीन्यास पूर्ण। इटामायाद । धनये. अधिकारी। किन्तु जयतका सोनी दगी नव नगर और काममारको पश्चिमी मीमा धागो इम! सफ. धन यंट नहीं माना। HEAR भागमे मुस्लिा मन्दिरका ध्यंमायर टिगोर होता है। मन्दिरकी धनी अधिकारिणो होता है। दुसि भयमे वोष्ट्रिय सुचूर महालिकाओं को सोर कर गार्गे घोर मनौगराि भास अधिकारी होने हैं। दुमा २२० फुट सम्या और.१४२ पुट गाँटा रामदा है। मातामही (गो .) मातामदाय । पति (Jani. भाज मा उस पानीम कोसिसे निदर्शनाए मग्मरको दाया। या PNS) नि हो । मागामनी , भूम्ति मीर काकायुग पस्या गरे पनि माने हैं। मानां महामहो मामाको ETोपा। मन्दिाले समीप एक विण्यात मार पचिस सालाप "PRIL TITHIIT RATER Rite मोह। प्रमाTMENTARATHI RAATE पानी। मातापिता ( पु.) माता पिता में भावसा , TELAR पानाntri am" २. पानादनः । सना और ___ . ..) अगा, माता-पिता । पोप --पितरी, मातरपिपरा गान मातामही गागु होने पर भी दियको पiिntm जगरियो। होता है। दो दिन भर कामाम परियो। मामापुस । म..माधार घेरा। - " जर मेरो नाम। मानामागदादीकी एक माम। पर मोनरोगे। writieी गरि मा alit" ५ काम दशिन Fra भीर प.गगा. गिर होती } यदि मामाको भार नही मी नाही भैरपनो मुहार्मस ३० काम HिE REAL भासकेमधमा । माता मदार पौधोर ,