सप्तसरोज

विकिस्रोत से
Jump to navigation Jump to search
सप्तसरोज (१९३८) 
द्वारा प्रेमचंद
[  ] [  ]
सप्तसरोज


लेखक-

लेसकसेवासदन, प्रेमपचीसी, शेखसादी, प्रेमाश्रम, समाम,

प्रेमपूर्णिमा आदिके रचयिता

"स्व० प्रेमचन्द"

--*--


प्रकाशक--

हिन्दी पुस्तक एजेंसी

ज्ञानवापी, काशी


सोलहवीं बार ]
[मूल्य 1)
१९३८
[  ]

प्रकाशक
श्री वैजनाथ केडिया
हिन्दी पुस्तक एजेन्सी,
ज्ञानवापी-काशी।

शाखाएँ-
२०३ हरिसन रोड कलकत्ता
गनपत रोड लाहौर
दरीबाकलां दिल्ली
वांकीपुर पटना

मुद्रक-
रामशरण सिंह यादव
वणिक प्रेस,
साक्षीविनायक, काशी।


PD-icon.svg यह कार्य भारत में सार्वजनिक डोमेन है क्योंकि यह भारत में निर्मित हुआ है और इसकी कॉपीराइट की अवधि समाप्त हो चुकी है। भारत के कॉपीराइट अधिनियम, 1957 के अनुसार लेखक की मृत्यु के पश्चात् के वर्ष (अर्थात् वर्ष २०२० के अनुसार, १ जनवरी 1960 से पूर्व के) से गणना करके साठ वर्ष पूर्ण होने पर सभी दस्तावेज सार्वजनिक प्रभावक्षेत्र में आ जाते हैं।

यह कार्य संयुक्त राज्य अमेरिका में भी सार्वजनिक डोमेन में है क्योंकि यह भारत में 1996 में सार्वजनिक प्रभावक्षेत्र में आया था और संयुक्त राज्य अमेरिका में इसका कोई कॉपीराइट पंजीकरण नहीं है (यह भारत के वर्ष 1928 में बर्न समझौते में शामिल होने और 17 यूएससी 104ए की महत्त्वपूर्ण तिथि जनवरी 1, 1996 का संयुक्त प्रभाव है।

Flag of India.svg